Featured Video Play Icon

उज्जैन गंगा दशहरा पर निकली अखाड़े की शाही पेशवाई नीलगंगा सरोवर में संतों का स्नान, मुख्यमंत्री ने किया देवता पूजन

Listen to this article

उज्जैन। प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी जूना अखाड़ा और अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के संयुक्त तत्वावधान में गंगा दशहरा मनाया गया। सुबह संतों की पेशवाई निकली, नीलगंगा सरोवर में स्नान के साथ ही मां नील गंगा का पूजन हुआ। इस दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा के निशान देवता का पूजन किया और मां नील गंगा का पंचामृत अभिषेक संतों के साथ किया। इस दौरान बड़ी संख्या में 13 आखाड़े के प्रमुख संत महंत मौजूद थे।राष्ट्रीय सचिव श्रीमहंत रामेश्वर गिरी महाराज ने बताया कि गंगा दशहरा पर्व वर्षों से जूना अखाड़ा द्वारा बनाया जाता रहा है। मां नीलगंगा सरोवर में विराजमान मां गंगा की प्रतिमा के समक्ष संतों ने पूजन अभिषेक किया। प्रदेश के मुखिया डॉ. मोहन यादव ने पूजन में शामिल होकर जूना अखाड़ा के निशान देवता के लिए चांदी का सिक्का भेंट कर पूजन विधि संपन्न कराई। अखाड़े के संतों और महंतों ने मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव का सारस्वत सम्मान कर उन्हें भगवान महाकालेश्वर का रजत शिवलिंग भेंट किया। इस अवसर पर अखाड़े के सचिव शाहदेवानंद गिरि महाराज कर्नाटक, डॉ रामेश्वर दास महाराज, भगवान दासजी महाराज, थानापति महंत देवगिरी महाराज, स्वामीनारायण संप्रदाय के प्रमुख आनंद जीवन दास जी महाराज, राधे राधे बाबा श्याम गिरी महाराज, सुरेशानंद पुरी महाराज, विशाल दास जी महाराज, आनंदपुरी जी महाराज, विद्या भारती जी महाराज, शनि भारती जी महाराज सहित बड़ी संख्या में संत महंत मौजूद थे। अखाड़े के स्थानीय प्रबंधक डॉ गोविंद सोलंकी और डॉ राहुल कटारिया ने मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव का अखाड़े की ओर से स्वागत सम्मान किया।महाआरती के साथ सवा क्विंटल हलवे का लगा भोग गंगा दशहरा पर एक और जहां सुबह पेशवाई और संतों का स्नान हुआ तो वही संध्या में मां नील गंगा का आकर्षक श्रंगार कर मां गंगा की आरती सनातन पुरोहित पंडित संजय वाघेला पंडित आशुतोष शास्त्री पंडित रुद्राक्ष वाघेला पंडित तिलक वाघेला द्वारा मंत्रोच्चार,,के, साथ मां गंगा की आरती संपन्न कराई आरती के बाद मां गंगा को सवा क्विंटल हलवे का भोग लगाकर भक्तो को प्रसाद वितरण किया गया। संध्या आरती में अतिथि सांसद प्रतिनिधि उमेश नाथ जी महाराज महामंत्री सत्यनारायण खोईवाल प्रतिपक्ष नेता रवि राय वरिष्ठ पत्रकार भूपेंद्र दलालआदिउपस्थितथे।

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे